Press "Enter" to skip to content

दिवाली पर कहीं घर न आ जाए नकली मावा, ऐसे करें असली की पहचान

त्योहारों का सीजन शुरू हो चुका है। कुछ ही दिनों में दिवाली, भैया दूज भी आने वाले हैं। ऐसे में हर उत्सव का मजा दोगुना करने और रिश्तों में मिठास घोलने के लिए लोग घर पर ही कई तरह की मिठाइयां बनाते हैं। ज्यादातर मिठाइयां मावा से बनाई जाती हैं, जो खाने में बेहद स्वादिष्ट होती हैं। लेकिन मिठाई बनाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाला मावा अगर नकली हो तो न सिर्फ त्योहार का मजा खराब हो जाता है बल्कि सेहत को भी काफी नुकसान होता है। अगर आप भी नकली माला खरीदने और सेहत को होने वाले नुकसान से बचना चाहते हैं तो मावा खरीदते समय ध्यान रखें ये जरूरी बातें।

-मावा खरीदते समय ध्यान रखें ये जरूरी बातें-
1-मावा पहचानने का सबसे आसान तरीका है कि यह ध्यान रखें कि असली खोया मुलायम और नकली खोया दरदरा होता है।

2- मावा खरीदने से पहले थोड़ा मावा खाकर देखें, मावा अगर असली होगा तो मुंह में चिपकेगा नहीं जबकि नकली मावा चिपक जाएगा।

3- हथेली पर खोया को लेकर उसकी गोली बनाएं। अगर यह फटने लग जाए तो समझ जाएं मावा नकली है या फिर इसमें मिलावट की गई है।

4- मावा या खोया को अपने अंगूठे के नाखून पर रगड़ें। अगर यह असली है तो इसमें से घी की महक आएगी।

5- असली मावे को खाने पर कच्चे दूध जैसा स्वाद आएगा। जबकि नकली मावा चखने पर स्वाद में कसैला होता है

6- मावे में थोड़ी चीनी डालकर गरम करें।अगर ये पानी छोड़ने लगे तो यह नकली खोया है।

7- असली खोया पानी में जल्दी घुल जाता है जबकि नकली खोया पानी में जल्दी नहीं घुलता।

8- असली खोया चिपचिपा नहीं होता बल्कि नकली खोया चिपचिपा होता है।

9- नकली मावे का पता लगाने के लिए उसे पानी में डालकर फेंटने से वह दानेदार टुकडों में अलग हो जाएगा।

10-असली खोया सफेद रंग का और नकली हल्का पीले रंग का होता है।

More from Latest NewsMore posts in Latest News »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *